unnamed (3)
2
4
5
6
3
हिमाचल प्रदेश

जवाली विस क्षेत्र जवाली के अधीन ग्राम पंचायत पद्दर के अधीन वार्ड नं-दो के निवासी आजादी के 74साल बीत जाने के बाद भी पक्की सड़क सुविधा से महरूम हैं।

जवाली विस क्षेत्र जवाली के अधीन ग्राम पंचायत पद्दर के अधीन वार्ड नं-दो के निवासी आजादी के 74साल बीत जाने के बाद भी पक्की सड़क सुविधा से महरूम हैं।

जवाली

राजेश कतनौरियI

15 जनबरी

नवगठित ग्राम पंचायत पद्दर के वार्ड नं-दो में करीबन 300 घर हैं जिनको पक्की सड़क सुविधा नसीब नहीं हो पाई है। गांववासियों 75 वर्षीय शकुंतला देवी, 70 वर्षीय सावित्री देवी, 75 वर्षीय निर्मला देवी, 90 वर्षीय धन्नी देवी, 80 वर्षीय निक्को देवी, 80 वर्षीय जयमल सिंह, 80 वर्षीय कृष्ण चंद ने कहा कि पक्की सड़क के इंतजार में हमारी आंखें पत्थरा गईं लेकिन आजतक पक्की सड़क नसीब नहीं हो पाई। बुजुर्गों ने कहा कि पूर्व मंत्री चौधरी चन्द्र कुमार द्वारा करीबन 35-40 साल पहले बाघ नाला से उनके गांव को जोड़ने के लिए सड़क निकाली गई थी लेकिन आजतक इसको पक्का नहीं किया गया।

गांववासियों ने कहा कि बारिश होने पर मार्ग दलदला हो जाता है जिस पर वाहन लेकर गुजरना तो दूर पैदल तक गुजरना किसी खतरे से खाली नहीं होता है। उन्होंने कहा कि जब कोई बीमार हो जाता है तो मरीज को कंधे पर उठाकर या पालकी में डालकर करीबन डेढ़ किलोमीटर दूर पक्की सड़क तक लाना पड़ता है, तब जाकर एंबुलेंस की सुविधा नसीब हो पाती है। लोगों ने कहा कि इस मार्ग की हालत तो यह है कि ट्रेक्टर तक भी घरों तक नहीं पहुंच पाते हैं। गांववासियों ने कहा कि उक्त मार्ग राजनीति का शिकार होकर रह गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में तो इसकी सुध ही नहीं ली गई। स्थानीय लोगों ने चेताया है कि अगर विस चुनाव से पहले रास्ते का निर्माण नहीं करवाया गया तो 2022 में चुनावों का वहिष्कार किया जाएगा।

इस बारे में पंचायत प्रधान तिलक राज से बात हुई तो उन्होंने बताया कि यह रास्ता वन विभाग के अधीन आता है तथा वन विभाग द्वारा इसकी एनओसी न मिलने के कारण इसको पक्का नहीं किया जा रहा है।जवाली से राजेश कतनौरियI की रिपोर्ट

Related Articles

Back to top button