unnamed (3)
2
4
5
6
3
राज्य

18 हजार से अधिक बेसहारा गौवंश को सरकार ने दिया संरक्षणः वीरेंद्र कंवर 

18 हजार से अधिक बेसहारा गौवंश को सरकार ने दिया संरक्षणः वीरेंद्र कंवर 
धमांदरी में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने गोपाला गौशाला में किया गौ पूजन
ऊना/हिमाचल
ब्यूरो रिपोट
25 जुलाई
ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य तथा पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा है कि प्रदेश सरकार ने पिछले साढ़े तीन वर्षों में 18 हजार से अधिक बेसहारा गौवंश को गौ सदनों में पहुंचाकर संरक्षण व संवर्धन दिया है। यह बात उन्होंने धमांदरी में गोपाला गौशाला में गौ पूजन के बाद कही। कंवर ने कहा कि अभी भी सड़क पर बेसहारा पशु हैं, जिन्हें आश्रेय प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार प्रयासरत है।

कंवर ने कहा कि बेसहारा गौवंश का संरक्षण व संवर्धन प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। इसलिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में सरकार बनने के उपरांत गौ सेवा आयोग का गठन किया गया। उन्होंने कहा कि गौ सदनों को आर्थिक सहायता के रूप में प्रदेश सरकार ने 500 रुपए प्रति गाय प्रति माह देने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि यह गौ सेवा के लिए लोगों को प्रेरित करने की एक शुरूआत है तथा आने वाले समय में इस बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि गौ माता भारतीय संस्कृति का आधार है तथा गाय को बेहसारा सड़क पर छोड़ना महापाप है।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने कहा कि जिला के पशु पालकों के लिए प्रदेश सरकार अनेकों सुविधाएं प्रदान कर रही है। पशुओं के लिए आंचलिक अस्पताल का भवन 10 करोड़ रुपए की लागत से बरनोह में निर्माणधीन है। आठ करोड़ रुपए की लागत से डंगेहड़ा में मुर्राह प्रजनन फार्म भी खोला जा रहा है। इसके लिए बसाल में 350 कनाल भूमि पर 47.50 करोड़ रुपए की लागत से डेयरी का उत्कृष्ठता केंद्र खोला जा रहा है, जिसके लिए भूमि का चयन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि किसान व पशुपालकों के लिए यह सारी सुविधाएं मील का पत्थर सिद्ध होंगी।
गेंहू बीज उत्पादन में स्वावलंबी बनेगा राज्य 
अपने संबोधन में वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कृषि विभाग ने अगले वर्ष तक गेहूं बीज उत्पादन में हिमाचल प्रदेश को स्वावलंबी बनाने का लक्ष्य रखा गया है। राज्य सरकार बाहरी राज्यों से गेहूं की बीज खरीदेगी नहीं बल्कि उन्हें बेचेगी। उन्होंने कहा कि किसानों से गेहूं की बीज 2600 रुपए प्रति क्विंटल की दर से खरीद जाएगा। इस वर्ष टकारला व कांगड़ा में एफसीआई के खरीद केंद्रों पर किसानों के गेहूं की खरीद की गई, जिससे कोरोना संकट के समय उन्हें लाभ हुआ।
वीरेंद्र कंवर ने धमांदरी में बनी गौशाला में सुधार कार्यों के लिए 15 लाख रुपए देने का वादा किया। उन्होंने कहा कि एस्टीमेट जल्द से जल्द पशु पालन विभाग को दिया जाए। उन्होंने कहा कि इस गौशाला के लिए अतिरिक्त भूमि दी जाएगी, जिसकी औपचारिकताएं जल्द से जल्द पूरी की जाएं। इसके अतिरिक्त उन्होंने धमांदरी में पशु औषधालय के भवन के लिए 18 लाख रुपए देने की घोषणा की। उन्होंने डठवाड़ा में भारत निर्माण सेवा केंद्र के तीन कमरों के लिए 10 लाख रुपए देने का ऐलान भी किया।
यह रहे उपस्थित
इस अवसर पर गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, जिला परिषद सदस्य निशा भुल्लर, जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल, मंडल अध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल शर्मा, प्रदेश किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष बलराम बबलू, भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी सुमित शर्मा, राम सिंह, पंडित जमुनादास सहित, अधिशाषी अभियंता जल शक्ति विभाग एके बंसल, पीडब्ल्यूडी शशि धीमान, उप-निदेशक पशु पालन विभाग डॉ. जय सिंह सेन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button